NoBroker.com ने सीरीज डी में जनरल एटलांटिक से 30 मिलियन डॉलर जुटाए


वाणिज्य संवाददाता
नई दिल्ली। NoBroker.com ने आज घोषणा की है कि उसने अपनी सीरीज डी फंडिंग में $30 मिलियन अमेरिकी डालर जोड़े हैं और अब आंकड़ा $80 मिलियन तक पहुंच गया है। इसे मिलाकर  नोब्रोकर अब तक कुल 151 मिलियन डॉलर की फंडिंग हासिल कर चुका है। इस राउंड का नेतृत्व जनरल अटलांटिक ने किया। नोब्रोकर ने अक्टूबर 2019 में सीरीज डी फंडिंग राउंड में टाइगर ग्लोबल के नेतृत्व में $50 मिलियन का फंड जुटाया था और जनरल एटलांटिक ने भी उस राउंड में भाग लिया था। मौजूदा फंडिंग उसी राउंड का एक्सटेंशन है।
लेन-देन को अधिक सुविधाजनक और किफायती बनाकर NoBroker.com रियल इस्टेट इंडस्ट्री में यूजर एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहा है। नोब्रोकर पर पहले ही 35 लाख से अधिक संपत्तियां रजिस्टर्ड हैं और 85 से अधिक लाख व्यक्तियों ने नोब्रोकर सेवाओं का उपयोग किया है।
जनरल एटलांटिक के मैनेजिंग डायरेक्टर शांतनु रस्तोगी ने कहा, “विकल्पों में सुधार, लेन-देन की लागत को कम करने, पारदर्शिता बढ़ाने और प्रक्रिया को आरामदेह बनाने में नोब्रोकर की सेवाएं और प्रोडक्ट इनोवेशन ने ऑर्गेनिक लिस्टिंग बढ़ाने और अपने प्लेटफार्म पर सबस्क्रिप्शन बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई है। नोब्रोकर पे, नोब्रोकर हूड, नोब्रोकर होम सर्विसेस और इसी तरह के कुछ और इनोवेशन मालिकों, किरायेदारों, खरीदारों और सामुदायिक निवासियों के साथ प्लेटफार्म के रिश्तों में मजबूती देते हुए उनके लिए इसे किराये और बेचने के बुनियादी लेन-देन से परे जाकर गो-टू-डेस्टिनेशन बना रहे हैं। हम इस विशाल सेग्मेंट में अपने नेतृत्व वाली स्थिति को मजबूत करने में अखिल, अमित और सौरभ को सहयोग के लिए उत्साहित हैं।”
नोब्रोकर किराये, बिक्री या रीसेल से लेकर लेन-देन के बाद की सेवाओं जैसे लोन, पैकर्स और मूवर्स, लीगल डॉक्यूमेंटेशन, ऑनलाइन रेंट पेमेंट, इंटीरियर्स आदि के लिए संपूर्म रियल एस्टेट लेन-देन की यात्रा के लिए वन-स्टॉप शॉप है।
नोब्रोकर ने हाल ही में नवंबर 2019 में दिल्ली-एनसीआर में अपने ऑपरेशन शुरू किए और वर्तमान में मुंबई, बैंगलोर, पुणे, चेन्नई, हैदराबाद और दिल्ली-एनसीआर सहित छह शहरों में काम कर रहा है। नोब्रोकर ने अपने विजिटर और सोसाइटी मैनेजमेंट ऐप नोब्रोकर हूड को मजबूत करने के लिए फरवरी 2020 में सोसायटी मैनेजमेंट और ईआरपी सॉल्यूशंस कंपनी सोसायटी कनेक्ट को ऑल-कैश डील में खरीद लिया था, जिससे यह एक ऐसा ऐप बना जिसकी समाज को ज़रूरत है।
NoBroker.com के सीटीओ और सह-संस्थापक अखिल गुप्ता ने कहा, “नोब्रोकर टेक्नोलॉजी की मदद से रियल-एस्टेट के सभी लेन-देनों से जुड़ी यात्रा को सहज बना रहा है। प्लेटफ़ॉर्म पर हमारे द्वारा जनरेट किए गए डेटा के साथ मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल करते हुए डील करने और अपनी ऑफरिंग को हर कस्टमर के अनुरूप बनाने में मदद मिल रही है। हमारे निवेशकों से जो हमें समर्थन मिला है, वह हमारे टेक्नोलॉजी इनोवेशन की श्रेष्ठता साबित करता है। हम आगे भी अपनी वित्तीय सेवाओं में निवेश करेंगे ताकि उन्हें अधिक लोगों तक पहुंचाया जा सके।”

Categories: देश,व्यापार

Leave A Reply

Your email address will not be published.