एम. ए. सिद्दीक़ी

नई दिल्ली। नशे के कारोबार में लिप्त अपराधियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाते हुए दिल्ली पुलिस के नारकोटिक्स सेल, क्राइम ब्रांच ने राजधानी दिल्ली में नशे के कारोबार में लिप्त 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। डीसीपी क्राइम श्री जॉय टिर्की व एसीपी आर. के.ओझा के निर्देशन में इन्स्पेक्टर राम मनोहर की टीम ने पुश्ता रोड गीता कॉलोनी बस स्टैंड से मस्जिदी फिरोज़ व जबीउल्लाह रहीमी नाम के दो अफ़ग़ानी व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है व आधा किलो से ज्यादा मादक पदार्थ हेरोइन बरामद किया है जिसकी कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग 80-90 लाख रुपये है। मादक पदार्थ की गुप्त सूचना इंस्पेक्टर राम मनोहर की टीम में SI विशन को मिली थी जिसपर टीम के अन्य सदस्यों SI राकेश दुहन, HC संजय, HC रमेश के साथ दोनो आरोपियों को मादक पदार्थ के साथ पकड़ा गया, क्राइम ब्रांच में मुकद्दमा दर्ज किया गया व तफ्तीश में HC अशोक, Ct. सुखबीर व अन्य स्टाफ को शामिल किया गया।
क्राइम ब्रांच (नारकोटिक्स) के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार पूछताछ में पता चला कि दोनो आरोपी मूलतः अफ़ग़ानिस्तान के नागरिक हैं। जबीउल्लाह पिछले कई साल से दिल्ली, अल्मोड़ा, हल्द्वानी, चंडीगढ़ में च्यवनप्राश, हींग व आयुर्वेदिक दवाएं बेचने का काम करता है। आरोपी मस्जिदी फिरोज़ 5 साल की उम्र में अपने माता पिता के साथ दिल्ली आया था और पिछले कई साल से लक्ष्मी नगर में किराए के मकान में अपने परिवार के साथ रह रहा है व च्यवनप्राश, हींग इत्यादि बेचने का ही काम करता है । गलत संगत में पड़ने की वजह से वह नशे का आदि भी हो चुका है। आरोपी जबीउल्लाह अफ़ग़ानिस्तान से चोरी छिपे हेरोईन अपने सामान के साथ ले कर आता था व अलग अलग नशे के आदी लोगों को बेचता था और 2 साल पहले फिरोज़ के संपर्क में आया था । जबीउल्लाह हेरोईन नशे के लिए फिरोज़ को भी दिया करता था। दिनांक 22 जुलाई को जबीउल्लाह अफ़ग़ानिस्तान से दिल्ली आया था और हल्द्वानी चला गया। पुनः 1 अगस्त को दिल्ली आया और मस्जिदी फिरोज़ की मदद से मादक पदार्थ बेचने की कोशिश कर रहा था जब दोनों पुश्ता रोड गीता कॉलोनी बस स्टैंड के पास नारकोटिक्स सेल के हत्थे चढ़ गए। पुलिस इन दोनों आरोपियों से जुड़े अन्य लोगों की तलाश कर रही है और नशे के कारोबार से जुड़े लोगों को पहचान कर कानूनी कार्रवाई में लगी हुई है।


Categories: क्राइम न्यूज

Leave A Reply

Your email address will not be published.