सीरिया से जल्द हटेगी अमेरिकी सेना


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अमेरिकी सेना सीरिया से जल्द ही बाहर निकल जाएगी. डोनाल्ड ट्रंप के मुताबिक, वॉशिंगटन ने मिडिल-ईस्ट के युद्धों में 7 ट्रिलियन डॉलर की बर्बादी की है. डोनाल्ड ट्रंप ने बातें ओहायो में औद्योगिक श्रमिकों को संबोधित करते हुए कही. ट्रम्प ने कहा, “हमारी सेना जल्द ही सीरिया से बाहर आ जाएगी. अब दूसरे लोगों को इसका ध्यान रखना चाहिए.” हालांकि, उन्होंने ये नहीं बताया कि वो अन्य लोग कौन हैं जो सीरिया की देखभाल कर सकते हैं. लेकिन आपको बता दें कि सीरिया में इस वक्त रूस और ईरान की सेना मौजूद है जो बशर अल-असद के शासन का समर्थन कर रहे हैं. फिलहाल पूर्वी सीरिया में अमेरिका के 2,000 से ज्यादा सैनिक मौजूद है जो इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. इस साल अमेरिका ने जनवरी में सीरिया को लेकर नई रणनीति का एलान किया था. उस वक्त विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा था कि आईएस और अल-कायदा को दोबारा सीरिया में पनपने का मौका नहीं दिया जाना चाहिए. ऐसे में जरूरी है कि सीरिया में अमेरिकी सेनाएं डटी रहे. बाद में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन को बर्ख़ास्त कर दिया था. ट्रम्प के मुताबिक, अमेरिका अब नौकरियों और बुनियादी ढांचे पर ज्यादा खर्च करेगा. उन्होंने कहा, ”हमने मध्य पूर्व में 7 ट्रिलियन डॉलर खर्च किए और आप जानते हैं कि इससे हमें क्या मिला कुछ भी नहीं “


Categories: विदेश

Leave A Reply

Your email address will not be published.