मो. अनस सिद्दीकी नई दिल्ली। मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं को कथित तौर पर चुनाव प्रचार के लिए ऑडियो संदेश भेजे जाने की शिकायत मिलने पर यहां के निर्वाचन अधिकारियों ने आप सुप्रीमो एवं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। साथ ही, उन्हें निगरानी समिति से हासिल प्रमाणपत्र सौंपने को कहा है। दरअसल, अधिकारियों को यह शिकायत मिली है कि रिकार्डेड ऑडियो संदेश चुनाव प्रचार के लिए पार्टी ने मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं को भेजे हैं। चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक विज्ञापनों और प्रचार सामग्री को मंजूरी देने को लेकर राज्य एवं जिला स्तरों पर मीडिया एवं निगरानी समिति का गठन किया है। पूर्वी दिल्ली के चुनाव अधिकारी के. महेश ने दो मई की तारीख वाले अपने कारण बताओ नोटिस में केजरीवाल से संबद्ध दस्तावेज शनिवार शाम चार बजे से पहले सौंपने को कहा है। नोटिस में कहा गया है कि ऐसा नहीं करने पर यह माना जाएगा कि आपके पास कहने के लिए कुछ नहीं है और चुनावी कानून तथा उसके तहत बने नियमों के मुताबिक कार्रवाई शुरू की जाएगी। नोटिस के मुताबिक कमेटी को 23 अप्रैल को एक एप उपयोगकर्ता से इस बारे में शिकायत मिली है कि आम आदमी पार्टी का एक रिकार्डेड संदेश राजनीतिक प्रचार के लिए सभी मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं को भेजा जा रहा है। इसमें कहा गया है कि समिति ने मामले की जांच की और इस बात की पुष्टि हुई कि आप संयोजक (अरविंद केजरीवाल) के कई रिकार्डेड ऑडियो संदेश पार्टी के राजनीतिक प्रचार के लिए सभी मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं को भेजे जा रहे हैं। नोटिस में कहा गया है चुनाव प्रचार में एक साथ भारी मात्रा में संदेश भेजना भी विज्ञापनों के पूर्व प्रमाणन के दायरे में होगा।


मो. अनस सिद्दीकी
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार हंसराज हंस ने शुक्रवार को कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) ने उन्हें मुस्लिम बताकर भगवान वाल्मीकि और उनके समाज का अपमान किया है। वह इस मुद्दे पर आप संयोजक एवं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का केस करेंगे। आप ने हंसराज पर धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल करने का आरोप लगाते हुए आरक्षित सीट से उनकी दावेदारी को चुनौती दी थी।
उत्तर पश्चिमी लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार हंसराज हंस ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में पत्रकार वार्ता में कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल फेक न्यूज बनाने में महारत हासिल कर रखते हैं। उन्होंने कहा कि आप के इस बयान से मुझे बहुत तकलीफ हुई है। मैं एक कालकार हूं और कार्यक्रम करने के लिए पूरी दुनिया में जाता हूं। मेरे पास पासपोर्ट है, जिस पर साफ-साफ लिखा है कि मैं किस धर्म और जाति से आता हूं। उन्होंने कहा कि यह पासपोर्ट भारत सरकार ने दिया है, मैंने अपने घर में नहीं बनाया है।
भाजपा उम्मीदवार ने कहा कि केजरीवाल ने पहले तो बाल्मीकि समाज को अपने पाले में लाने के लिए अपनी पार्टी के चुनाव चिन्ह झाड़ू रखा और अब बाल्मीकि समाज का अपमान कर रहे हैं। केजरीवाल जब अपने गुरु (अन्ना हजारे) के नहीं हुए तो हम बाल्मीकियों के क्या होंगे। दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि आप नेता और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पूरी तरह से हाताश हो चुके हैं। इसलिए वे अनर्गल आरोप भाजपा के उम्मीदवारों के ऊपर लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल विकास के मुद्दे से हटकर इधर-उधर की बातें करके दिल्ली की जनता के साथ धोखा देने का काम कर रहे हैं।


Categories: क्राइम न्यूज,देश,राजनीति

Leave A Reply

Your email address will not be published.