मेक इन इण्डिया के यूएई में राजस्थान चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री (RCCI) के सहयोग से आगे बढ़ाएगी – ‘गो-गेटर’कम्पनी


मो. अनस सिद्दीक़ी

नई दिल्ली। भारत की मेक इन इंडिया योजना अब देश ही नहीं अपितु विदेशों में भी अपना परचम लहरा रही है। इसका उदाहरण बनी है, यूएई निवासी श्रीमति विनिथा भाटिया जो कि मूलतः भारतीय है और यूएई में अपनी कम्पनी गो-गेटर जो कि ई-मार्केटिंग प्लेटफार्म है के माध्यम से एमएसएमई का यू एई में व्यापार व मार्केट शेयर बढ़ाने हेतू राजस्थान चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज के मानद् महामंत्री एन. के. जैन से मुलाकात की।

गो गेटर कम्पनी यूएई में स्थित हैं परन्तु ई प्लेटर्फाम कम्पनी होने के कारण उसका फायदा तथा उससे जुडे़़ सभी कार्य का फायदा RCCI के मेम्बर को हो सकता है और वो अपना व्यापार पूरे विश्व में फैला सकते हैं। गो गेटर कम्पनी अपना समस्त कार्य मेक इन इंडिया के लिए ही करती है।

क्योंकि उक्त कम्पनी की सर्वे-सर्वा यूएई निवासी महिला श्रीमति विनिथा भाटिया है परन्तु भारतीय मूल की होने के कारण उनका दिल आज भी अपने हिन्दुस्तान के लिए ही धडकता है, यही कारण है कि, जब उन्होने दुबई में अपना कार्य आरंभ करा तब आरंभ से ही गो गेटर को मेक इन इंडिया के लिए समर्पित कर दिया है, जोड दिया है। आज कुछ ही समय में गो गेटर कम्पनी ने दुनिया में जहां अपनी पहचान स्थापित करी है वहीं भारत के अनेकों एम.एस.एम.ई. चेंबर आज गो गेटर से जुड चुके है, एवं रोजाना नए जोडे जा रहें हैं। इन सभी चेंबर्स को यूएई में हर तरह की मदद करने को गो गेटर सदैव तत्पर रहती है। RCCI (राजस्थान चेंबर) के सचिव तथा राजस्थान के एम्पलॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री नरेन्द्र जैन ने विगत दिनों अपने दुबई प्रवास के समय गो गेटर कम्पनी की सीईओ विनिथा भाटिया से मुलाकात करी जिसमें भविष्य में राजस्थान के उद्योग व राजस्थान चेंबर को यूएई में गो गेटर से मिल कर चलने एवं व्यापार व उद्योग क्षेत्र में नई संभावनाओं के प्रति चर्चा करी गई। राजस्थान चेंबर के सचिव एन. के. जैन ने अपने साक्षात्कार में बतलाया कि, दुबई को व्यापारिक दृष्टिकोण से वह एक आपरचुनिटी मानते है। उन्होने बतलाया कि, आज युएई विश्व का सबसे बडा व्यापारिक केंद्र बन गया है।

राजस्थान का व्यापारी, उद्योगपति एवं एक्सपोर्टर जो कोई भी राजस्थान चेंबर आफ कॉमर्स से संबधित है, वह यहां दुबई में गो गेटर के संग मिल कर अपने लिए नए आयाम तलाश सकता है। गो गेटर, ई प्लेटफार्म कम्पनी होने के फायदे से वह गो गेटर से आपसी सहयोग प्राप्त कर अपने व्यापार, उधोग एवं एक्सपोर्ट के धंधे को नई ऊँचाईयों की और ले जा सकता है। आगे जानकारी देते हुए जैन ने बतलाया कि, आज राजस्थान चेंबर आफ कॉमर्स से सिर्फ राजस्थान के लगभग 70,000 औद्योगिक सदस्य जुडें हुए है साथ ही लगभग 500 एक्सपोर्टर जुडे़ है। मेक इन इंडिया के तहत राजस्थान चेंबर आफ कॉमर्स और गो गेटर कम्पनी के आपस में जुडने से जंहा व्यापार जगत को फायदा पहुंचेगा, वहीं साथ ही दोनों देशों में भी आपसी सोहार्द्र एवं भाईचारा बढ़ेगा। भविष्य में गो गेटर अपने कामों से एम.एस.एम.ई. एवं मेक इन इंडिया को आगे लाने में एक मील का पत्थर साबित होगी, ऐसा वक्तवय राजस्थान चेंबर आफ कॉमर्स के जैन ने दिया है। राजस्थान के व्यापारियों से उन्होनें अपिल करते हुए कहा कि, यदि वह अपने निर्मित सामान को यूएई के घर घर तक पहुंचाना चाहते है और अपने व्यापार को दुबई इत्यादि देशों में सप्लाई करना चाहते है तो उन्हें गो गेटर कम्पनी से तत्काल प्रभाव से जुड़ अपने सपनो को पूरा करने की दिशा में कदम बढ़ाना ही होगा।


Categories: पर्यटन,महिला जगत,विदेश,व्यापार

Leave A Reply

Your email address will not be published.