जात-पात को मिटाकर सर्व समाज की स्थापना करना ब्राम्हण का कर्तव्य: विजय शर्मा


कार्यालय संवाददाता
नई दिल्ली। सर्व ब्राम्हण महासभा (पंजी) के तत्वाधान में शंकर विहार स्थित, हनुमान मंदिर में ब्राम्हण रत्न सम्मान का भव्य आयोजन किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष पं सुभेष शर्मन, राष्ट्रीय सचिव आचार्य डॉ राजेश ओझा, आचार्य रामकुमार शर्मा, आचार्य राम मिलन शुक्ला, आचार्य डॉ विक्रमादित्य, पूर्वी दिल्ली से भाजपा प्रत्याशी गौतम गंभीर की माता सुश्री सीमा गंभीर, निगम पार्षद हिमांशी पांडे, इंद्रप्रस्थ चांदनी चौक ब्राम्हण सभा (पंजी) के अध्यक्ष पं विजय शर्मा पूर्व निगम पार्षद पं रवि प्रकाश शर्मा कार्यक्रम की संयोजिका डॉ नीति शर्मा, राजीव निशाना आदि उपस्थित थे। आचार्य डॉ राजेश ओझा ने कहा, कि ब्राम्हणों को एकजुट होकर राष्ट्र निर्माण में अपनी अग्रणी भूमिका निभानी है। प्रत्येक वर्ग को साथ लेकर भारत भूमि की रक्षा करनी है। सभा के अध्यक्ष पं विजय शर्मा ने कहा, कि देश में जात पात के आधार पर हिंदुओं को बांटकर वोट बैंक की जो राजनीति शुरू हुई है, उस पर अंकुश लगाकर आपसी सौहार्द बनाकर सभी सनातनी बंधुओं को सर्वसमाज की स्थापना करनी होगी, तभी हिन्दुस्तान मजबूत होगा। इस अवसर पर कशिश शर्मा उदीयमान छात्र व खिलाडी, विजय शर्मा आदि को ब्राम्हण रत्न अवार्ड से सम्मानित किया गया।


Categories: देश,राजनीति

Leave A Reply

Your email address will not be published.