गो-गेटर और रूरल बिजनेस ने किया व्यापारिक करार


एम. ए. सिद्दीकी
दुबई। यूएई मूल की भारतीय महिला विनीता भाटिया किसानी ने समस्त भारत के ’एसएमई सेक्टर को देश विदेश में व्यापार आरम्भ करने अथवा आगे बढ़ाने में पूर्ण रूप से सहयोग व मदद करने हेतु ’’गो गेटर’’ नामक डिजिटल मार्केटिंग कंपनी की शुरुआत की है। यह कंपनी ऑनलाइन मार्केटिंग द्वारा सामान का क्रय-विक्रय करने हेतु एक सरल सुगम व सस्ता माध्यम है। गो-गेटर कंपनी एसएमई द्वारा निर्मित सामान को बगैर अतिरिक्त खर्च के विश्वभर में क्रय-विक्रय करने का एक अनूठा व नवीनतम प्लेटफार्म है।
इस प्लेटफार्म के माध्यम से व्यापारी न केवल अपना सामान बेच सकता है। बल्कि उसके साथ ही डिस्ट्रीब्यूटर एवं विक्रेता केंद्र तक बिना किसी अतिरिक्त खर्च एवं जद्दोजहद के पंहुचा सकता है।
कुमारी विनीता किसानी ने हाल ही में डॉक्टर ताओरी कमल से व्यापारिक गठबंधन किया है। डॉक्टर ताओरी कमल भूतपूर्व आईएएस अफसर है। साथ ही वह इंटरनेशनल इंस्टिट्यूट फॉर होलिस्टिक रिसर्च एंड एक्शन (भारत व यूरोप) के साथ ही वे रूरल बिजनेस हब फाउंडेशन के चेयरमैन भी है। लेखक होने के साथ ही वे एक सामाजिक कार्यकर्ता भी है। उसी कड़ी में ग्रामीण धार्मिक सांस्कृतिक और व्यापारिक उत्थान हेतु कार्यरत है। उनका लक्ष्य व कार्य है कि ग्रामीणों का कोई शोषण न हो, और उसके साथ ही ग्रामीणों के व्यापारिक उत्पाद को एक केंद्रित स्थल से बगैर कर्ज, अनुदान इत्यादि के बाजार में पहुंचाना है। इसका उन्हें 35 साल का अनुभव है। ग्रामीणों के सामान को वह ग्रामीण बाजार हाट से लेकर देश-विदेश तक में बिकवाने का कार्य, सेवा भाव से करते है। डॉक्टर कमल के साथ वह सभी लोग जुड़े हुये हैं जो अपना सामान वहां बेचना चाहते है जो बाजार अभी तक अछूता है।
डॉक्टर ताओरी कमल ने बताया कि विनीता किसानी की ’’गो-गेटर’’ कंपनी भारतीय लघु एवं मध्यम उद्यमियों के लिए एक उपयोगी प्लेटफॉर्म है। आने वाले समय में व्यापार में अपनी पकड़ मजबूत करने एवं देश-विदेश में अपना सामान बेचने व पहुंचने हेतु एक मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने उम्मीद जताई है कि गो-गेटर के साथ करार होने के बाद एसएमई सेक्टर एवं लघु मध्यम वर्ग के व्यापारियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना सामान बेचने और नाम कमाने का बेहतरीन मौका होगा।


Categories: महिला जगत,विदेश,व्यापार

Leave A Reply

Your email address will not be published.