कुपोषण से निपटने वाली योजनाओं के प्रभाव की निगरानी करेगी सरकार


मो. कामरान
नई दिल्ली। बच्चों और महिलाओं में कुपोषण को रोकने के लिए शुरू की गई कई योजनाओं के प्रभाव पर नजर रखने के लिए सरकार ने एक निगरानी एवं समीक्षा तंत्र बनाया है। इन योजनाओं में पोषण अभियान, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना और आंगनवाड़ी सेवा योजना शामिल है। सूत्रों के मुताबिक नीति आयोग की तकनीकी टीम समय-समय पर पोषण अभियान के प्रभाव का आकलन करती है। उन्होंने बताया, पोषण अभियान के तहत सभी योजनाओं की निगरानी और समीक्षा के लिए राष्ट्रीय पोषण संसाधन केन्द्र- केन्द्रीय परियोजना निगरानी इकाई का गठन किया गया है। सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की नियमित निगरानी वेब आधारित प्रबंधन एवं सूचना सॉफ्टवेयर के माध्यम से की जाती है। वैश्विक पोषण रिपोर्ट 2018 के अनुसार, भारत कुपोषण के एक बड़े संकट का सामना कर रहा है। दुनिया में अवरूद्ध शारीरिक वृद्धि से प्रभावित लोगों में एक तिहाई भारत में हैं।


Categories: देश,स्वास्थ्य

Leave A Reply

Your email address will not be published.