आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के लोगों को सिर्फ धोखा दिया: श्याम जाजू


मो. अनस सिद्दीकी
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश कार्यालय पर आज राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं दिल्ली व उत्तराखण्ड के प्रभारी श्याम जाजू, लोकसभा चुनाव सह-प्रभारी जयभान सिंह पवैया, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने आम आदमी पार्टी के 2013, 2015 और 2019 के घोषणा पत्र की तुलना कर उसमें दिल्ली की जनता से किये गये झूठे वायदों का मीडिया के समाने पर्दाफाश करने को लेकर संयुक्त प्रेस वार्ता की। इस प्रेस वार्ता में, प्रदेश महामंत्री रविन्द्र गुप्ता एवं मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।
पत्रकारों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं दिल्ली व उत्तराखण्ड के प्रभारी श्याम जाजू ने कहा कि आज हम आम आदमी पार्टी के 2013, 2015 और 2019 के घोषणा पत्र में दिल्ली के लोगों से किये गये झूठे वायदो का पर्दाफाश कर रहे है। दिल्ली की जनता ने प्रचण्ड बहुमत के साथ केजरीवाल को बड़ी उम्मीदों से जिताकर सत्ता में बिठाया। लोगों को विश्वास था कि आम आदमी पार्टी जनलोकपाल लायेगी व भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने का काम करेगी लेकिन आम आदमी पार्टी से दिल्ली के लोगों को सिर्फ धोखा मिला जिसका जवाब दिल्ली के लोगों ने निगम चुनावों में केजरीवाल को हराकर और कई सीटों पर उनके उम्मीदवारों की जमानते जब्त करवाकर बखूबी दिया।
उन्होंने आगे कहा कि जनता से वायदे कर वायदाखिलाफी आम आदमी पार्टी ने की है जिसके कारण अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए केजरीवाल हर दिन नये झूठ का सहारा लेते है। केजरीवाल कहते है हम काम करना चाहते है वो रोकते है गेस्ट टीचर को नियमित करने से आपको किसने रोका है, सड़के, नये स्कूल, नये कॉलेज, नये अस्पताल, महिलाओं की सुरक्षा के लिए बसों में गार्ड, सीसीटीवी, वाई-फाई और दिल्ली के लोगों को बिजली पानी देने से आपको किसने रोका है ? केजरीवाल ने साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में केवल आरोप प्रत्यारोप किया दिल्ली की जनता के हितों के लिए एक भी काम नहीं किया। भ्रष्टाचार के नाम पर हाय तौबा मचाने वाले केजरीवाल के दर्जन भर से ज्यादा विधायक व मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के मामले लंबित है।
पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि आज हम आम आदमी पार्टी के तीनों घोषणा पत्रों का तुलनात्मक अध्ययन कर इस नतीजे पर है कि दिल्ली के लोगों के साथ आम आदमी पार्टी ने धोखा किया है। केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को पहले जनलोकपाल, फिर मोहल्ला सभा और अब पूर्ण राज्य के दर्जे के नाम पर ठगने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन काठ की हांडी सिर्फ एक बार ही चढ़ती है। 2013 में पार्टी के घोषणा पत्र का मुख्य मुद्दा जनलोकपाल था जिसमें तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित पर भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोप लगाकर उनको जेल में डालने की बात कही गयी थी जो कि अब ठंडे बस्ते में डाल दी गई है। जनलोकपाल आज भी आम आदमी पार्टी का मुद्दा है जिस पर उन्होनें अपने कार्यकाल में कोई काम नहीं किया है।
2013 में ही स्वराज मौहल्ला सभा का सपना दिल्ली वालों को दिखाया गया जो कि आम आदमी पार्टी के घोषणा पत्र 2019 में भी शामिल है जिस की केवल परिकल्पना भर है काम के नाम पर दिल्ली के लोगों को फिर नया झूठ बोला जा रहा है। बिजली को लेकर कहा गया कि उपभोक्ता अपनी मर्जी से एनडीपीएल या बीएसईएस किसी से भी बिजली ले सकता है जिस पर आम आदमी पार्टी ने कोई काम नहीं किया है जो कि भ्रष्टाचार की ओर इशारा करता है। पानी के लिए कहा गया 20 हजार लीटर मुफ्त पानी दिया जायेगा, दिल्ली में लगभग पानी के 19 लाख मीटर लगाये गये है जिनमें सात लाख मीटर खराब है उन्हे जानबूझकर ठीक नहीं कराया जा रहा है। खराब मीटर पर औसतन बिल भेजकर मनमानी बिल राशि वसूली जाती है। दिल्ली के कर दाताओं से वसूली गई रकम से पानी दिल्ली सरकार दे रही है तो वो मुफ्त कैसे हुई।
विजय गोयल ने कहा कि महिला सुरक्षा को लेकर कहा गया कि बसों में मार्शल और पेनिक बटन, स्ट्रीट लाईट व सीसीटीवी दिल्ली में लगेगें जो आज तक दिल्ली सरकार ने नहीं लगाये। 47 फास्ट ट्रेक कोर्ट बनाने की बात पहले कही गयी थी फिर दोबारा वो झूठ दिल्ली के लोगों से बोला जा रहा है। दिल्ली की शिक्षा को लेकर आम आदमी पार्टी ने वायदा किया कि जो छात्र 60 प्रतिशत नम्बरों से पास होगें उन्हें कॉलेज मे दाखिला देगें। जब एक भी नया कॉलेज नहीं खुला तो दाखिला कहां से देगें केजरीवाल फिर झूठ बोला जा रहा है। गेस्ट टीचर को नियमित करने की बात घोषणा पत्र में कही गयी उन्हीं गेस्ट टीचरों को एक तुगलकी फरमान से बेरोजगार केजरीवाल सरकार ने कर दिया। एक हजार मौहल्ला क्लीनीक खौलने की बात कही गयी मुश्किल से 170 भी नहीं खोल पाये।
नये अस्पताल बनाने का वायदा 2019 के भी वायदे में शामिल कर लिया गया लेकिन नया अस्पताल नहीं बनाया। गांव में ग्रमा सभा के सश्क्तीकरण की बात 2013 में और अब 2019 में भी यानि स्पष्ट है आपने कोई काम नहीं किया है। अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने का वायदा आम आदमी पार्टी ने किया लेकिन इस पर कोई कार्य नहीं किया। प्रदूषण के मामले में दुनिया भर में दिल्ली को नम्बर वन केजरीवाल ने बना दिया। दिल्ली के लोगों को हर रोज प्रदूषण का जहर पीना पड़ता है जिसके लिए केजरीवाल सरकार जिम्मेदार है। 2013, 2015 और अब 2019 के घोषणा पत्र के माध्यम से केजरीवाल दिल्ली की जनता को केवल झूठे वायदे किये हैं। जिसका पर्दाफाश भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के हर गली हर चौपाल हर गांव में करके रहेगी। दिल्ली की सभी समस्याओं का हल केन्द्र और दिल्ली में भाजपा की सरकार बनने पर होगा।


Categories: देश,राजनीति

Leave A Reply

Your email address will not be published.